जय बजरंग बली हनुमान


जय बजरंग बली हनुमान, हे राम भक्त श्रीकृपा निधान
आज पुकार रहे हैं तुमको  आओ अजंनी पुत्र हनुमान
रावण से बदतर बने  हुए है जग के सत्तांध हुक्मरान
जाति धर्म व स्वार्थ के अंधे, लूट मार ही इनका इमान
मंहगाई व भ्रष्टाचार बढाये देश लूट व्यभिचार फेलाये
सुनलो दीन दुखियों की पुकार है बंजरंगीबली हनुमान 
आओ दुष्टों को सबक सिखाओ, लंका फिर से ढाह दो
आतंक से अब मुक्ति दिला दा,े है बजरंगबली हनुमान
राम कृष्ण के तुम्ही प्यारे दीन दुखियों को सदा सहारे
अब तो प्रकट हो बीर बजरंगी माता अंजना के लाल
जय बजरंग बली हनुमान, हे राम भक्त श्रीकृपा निधान
आज पुकार रहे हैं तुमको  आओ अजंनी पुत्र हनुमान

    देवसिंह रावत

(हनुमान जयंती के पावन पर्व पर श्रीचरणों में सादर समर्पित 25 अप्रैल 2013 प्रात 8.40 बजे)

Comments

Popular posts from this blog

गुरू पूर्णिमा को शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज का भव्य वंदन

-देशद्रोह से कम नहीं है शिक्षा का निजीकरण