Posts

Showing posts from May, 2013
Image
देश के हुमरानों व मीडिया शर्म करो, 
सरकारी भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने के लिए क्रिकेट प्रकरण न उछालो


कोई देश के इन इलेक्ट्रोनिक समाचार चेनल वालों सहित भारत के समाचार जगत से पूछे कि उनको मनमोहन सरकार का कोयला घोटाला, रेल घोटाला, 2जी घोटाला सहित कई दर्जन घोटाले क्यों नहीं दिखाई दे रहे है? ये क्यों इन दिनों खुले सट्टे व पैसों के खेल आईपीएल में हुए घुस प्रकरण पर दिन रात ऐसा दिखा रहे हैं कि मानों क्रिकेट का यह घोटाला देश के सभी घोटालों का मूल है।
क्या यह देश का ध्यान इसी पखवाडे रेल व कोयले घोटाले में पूरी तरह घिर चूकी मनमोहन सरकार के घोटालों पनर पर्दा डालने का षडयंत्र नहीं है तो क्या है? चीन भारत की सीमा पर कब्जा कर रहा है, अमेरिका व चीन पाक को प्यादा बना कर देश पर आतंकी हमले कर रहे है। संसद से लेकर सीमा तक सुरक्षित नहीं है। चीन ने भारतीय सीमाओं पर ही अतिक्रमण नहीं किया अपितु उसने भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ समझे जाने वाले उद्योगों की कमर भी तोड़ दी। आज भारतीय बाजार चीनी माल से भरा हुआ है। देश के उद्योग धडाधड बंद हो रहे हैं। नक्सली दो जनपदों पर शिकंजा कस चूके है। भारत की सरकार, मीड़िया, राजने…
Image
चुनावों में अपनी हालत पतली देख कर मुख्यमंत्री सहित तमाम नेताओं को आयी जनता व कार्यकत्र्ताओं की याद
क्या राज है मुख्यमंत्री बहुगुणा व यशपाल आर्य के कार्यकत्र्ताओं व जनता के लिए चंद दिनों से उमड़ रहे प्यार का

देहरादून (प्याउ)। आगामी लोकसभा चुनाव सर पर देख कर व प्रदेश में कांग्रेस को जनता द्वारा स्थानीय निकाय के चुनाव में बुरी तरह से नकारे जाने के बाद  उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल आर्य दोनों को जनता व कार्यकत्र्ताओं की याद आ रही है। कभी खुद को बंगाली मूल का बताने वाले व आम जनता से दूर रहने वाले प्रदेश के मुख्यमंत्री इन दिनों जनपद स्तर व विकासखण्ड स्तर पर यात्रा करके जहां एक तरफ लोकलुभावनी जनकल्याणकारी घोषणाओं का अम्बार लगा रहे हैं वहीं दूसरी तरफ अपनी ही पार्टी के शासन में उपेक्षित कार्यकत्र्ताओं का दिल जीतने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों को धमका कर उनको कांग्रेसी कार्यकत्र्ताओं की उपेक्षा न करने की बात कह रहे हैं। केवल मुख्यमंत्री ही नहीं ऐसा नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष यशपाल आर्य भी कह रहे हैं कि संगठन सरकार से उपर है और सरकार को वफादार व वरिष्…
Image
चंगेजों की लूट पर नहीं सट्टे पर तूफान है
हवाओं में है खबर पर जुबान पर पहरा है
चंगेजों की लूट पर नहीं सट्टे पर तूफान है ।
यहां की हर साख पर उल्लूओं का ही है डेरा 
मेरे वतन के लूटरो पर क्यों डाल रहे है पर्दा ।।
वतन के लूटेरों के लिए यहां क्यों है सबेरा 
चारो तरफ गुनाहगारों का ही लगा है मेला ।।
दफन कर दिये गये यहां चमन के सब माली
लुटा रहे है तारनहार बन बतन की खुशहाली ।
लूट रहा आबरू, तो कोई सरकारी खजाना
खामोश है जुबान पर देख रही है हर आंखे ।।
नहीं फिक्र जरा  इन्हें भूखे प्यासे बच्चों की 
सनक है केवल देश को लुटने व लुटाने की ।
राज है यहां चंगेजों का हर शहर -गांव में
मत बहा खून के आंसू बेदर्दो के कब्रिस्तान में ।।
देर नहीं अंधेर नहीं यहां महाकाल के द्वार में 
बच नहीं पायेगा कोई अपने कृत्यों के जाल से ।
उठो आवाज उठाओं, वतन बचाओ चंगेजों से 
सतपथ के वीरों की रक्षा करता हर काल से ।।

-देवसिंह रावत 
(31 मई प्रातः 9 बजे कर 11 मिनट)

Image
खूंखार नक्सलियों व आतंकियों से अधिक खतरनाक हो गये है खुदगर्ज हुक्मरान
अपनों पर पड़ी तो पाताल से भी ढूढ कर दबोचने की हुंकार भर रहे हैं हुक्मरान


छत्तीसगढ़ के दरभा में शनिवार 25 मई को हुए नक्सली हमले में कांग्रेसी नेताओं सहित 29 लोगों को निर्मम ढ़ग से हत किये जाने के बाद अब तक नक्सलियों को आतंकी न मानने वाली केन्द्र सरकार ने अब नक्सलियों को अब लोकतंत्र पर हमला करने वाला खुखार खतरा मानते हुए इन नक्सलियों को देश से उखाड़ फेंकने के लिए उन्हें पाताल से भी दबोचने के लिए कमर कस ली है। सुत्रों के अनुसार इससे पहले पांच दर्जन से अधिक पुलिस कर्मियों  व आम जनता को एक साथ मारने तथा जिला अधिकारी जैसे वरिष्ठ प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों का भी अपहरण करके देश की पूरी व्यवस्था को खुली चुनौती का दुशाहस करने वाले खुखार नक्सलियों को आतंकी तक मानने के लिए तैयार नही था। यही नहीं देश की लोकशाही को उखाड फेंक कर पशुपति से तिरूपति तक यानी नेपाल से पूरे भारत को नक्सली राज कायम करने के लिए सशस्त्र हिंसा का तांडव मचाने वाले नक्सलियों के खिलाफ अब तक की कोई भी सरकार मजबूती से इस समस्या के निदान के लिए विकास के असंतुलन …
Image
भारतीय हुक्मरानों की नपुंसकता से चीन व नक्सलियों के खतरनाक चक्रव्यूह में फंसा भारत
चीन ने भारतीय सीमा के 5 किमी अंदर बनायी सड़क

भारत के हुक्मरानों की घोर उदासीनता व नपुंसकता से आज भारत चीन व नक्सलियों के खतरनाक चक्रव्यूह में बुरी तरह से फंस गया है। एक ही समय में चीन जहां भारत की सीमा पर बलात कब्जा करता है उसी समय नक्सली भी भारत के खिलाफ सशस्त्र युद्ध छेड देते है। परन्तु बेखबर व सत्तामद में चूर भारतीय हुक्मरान व तंत्र बेखबर हो कर इस को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने के लिए तैयार भी नहीं है।
एक तरफ चीन ने भारतीय सीमा पर लद्दाख क्षेत्र में एक माह पहले ही 19 किलोमीटर पर दो सप्ताह तक कब्जा करके भारतीय अखण्डता व सम्मान को खुले आम रौदने के बाद भारतीय हुक्मरानों को मेमना बन कर अपनी शर्तो पर समझोता करने के लिए विवश करता है। उसके एक पखवाडे के भीतर चीन समर्थित डेढ़ हजार सशस्त्र नक्सली भी छत्तीसगढ़ में हमला बोल कर छत्तीसगढ़ के दिग्गज नेताओं को मौत के घाट उतार देते है। इस दर्दनाक खबर से भारतीय उबर भी नहीं पाये थे कि खबर आयी कि   चीन ने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के भीतर भारत की ओर कब्जा कर पांच …
Image
26 मई को भी दिल्ली के रामलीला मैंदान में दर्शन देगी माॅ नन्दादेवी 
उत्तराखण्ड के बाहर मुम्बई से दिल्ली आदि शहरों में रहने वाले 70 लाख उत्तराखण्डियों  को पहली बार नन्दादेवी  2013 राजजात से जोड़ने का सराहनीय भागीरथी कार्य करने वाले मुम्बई के युवा उद्यमी गणेश सनवाल ने अगली राजजात यात्रा को अमेरिका सहित विश्व भर के उत्तराखण्डियों को एकसुत्र में जोड़ने का लिया संकल्प  नई दिल्ली(प्याउ) दिल्ली के 30 लाख से अधिक उत्तराखण्डी आज 26 मई को भी माॅं भगवती नन्दादेवी के पावन दर्शन रामलीला मैदान में सांयकाल 6 बजे से रात्रि के  दस बजे तक कर सकते है। दिल्ली के लाखों उत्तराखण्डियों को माॅं भगवती नन्दादेवी के पावन दर्शन मुम्बई के अग्रणी समाजसेवी व युवा उद्यमी गणेश सनवाल के महान भागीरथ प्रयासों से कर पा रहे है। जिन्होने मन्नत संस्था के बेनर तले 23-24 दिसम्बर व जनवरी 2013 को उत्तराखण्ड भवन वासी में नंदादेवी के पावन दर्शन मुम्बई वासियों को कराये। माॅं नन्दादेवी के पावन दर्शन कराने के साथ साथ श्री सनवाल ने मुम्बई व दिल्ली सहित तमाम प्रवासी बंधुओं की तरफ से अगस्त 28 अगस्त से सीमान्त जनपद चमोली के नोटी गांव से प…
Image
छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में सलवा जुडूम के संस्थापक महेन्द्र वर्मा आदि कांग्रेसी नेताओं व पुलिस कर्मियों सहित 29 मरे 
नक्सली व पाक के आतंक से तबाही के गर्त में फंसे भारत को बचाने के बजाय खुद भ्रष्टाचार की गर्त में धकेल रहे हैं हुक्मरान


रायपुर(प्याउ) देश के लोकतंत्र  के लिए गंभीर खतरा बन चूके एक हजार से अधिक हथियारबंद नक्सलियों ने अपने कमांडर गुरसा ओसेंडी के नेतृत्व में 25 मई शनिवार को परिवर्तन यात्रा के तहत सुकमा से जगदलपुर के लिए निकले प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं के काफिले पर छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले की दरभा घाटी के पास घात लगा कर किये हमले में कई वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं व 10 पुलिस कर्मियों सहित 29 लोगों की हत्या कर दी । इसी नये नक्सली कमांडर ने इस हमले की जिम्मेदारी भी ली है। सुत्रों के अनुसार जैसे ही यह यात्रा  शाम करीब साढ़े 5 बजे गीदम घाटी के करीब पहुंची तो घात लगा कर बैठे  नक्सलियों ने पेड़ गिरकार रास्ता रोक लिया और यात्रा पर गोलीबारी और बमों से भी हमला किया गया। इस हमले में जहां प्रदेश अध्यक्ष नंद कुमार पटेल,  पूर्व सांसद महेंद्र कर्मा, व गोपाल माधवन कश्यप, कवासी लखमा, उदय…
Image
गैरसैंण में राजधानी बनाने के बजाय बलात देहरादून में राजधानी थोपने वालों की कब्र बना देगा महाकाल
उत्तराखण्ड राज्य गठन जनांदोलन के अग्रणी संगठन उत्तराखण्ड जनता संघर्ष मोर्चा ने देहरादून के रायपुर में नये विधानसभा भवन का निर्माण करने को उतारू उत्तराखण्ड की वर्तमान विजय बहुगुणा सरकार सहित तमाम राजनैतिक दलों को उत्तराखण्ड की जनभावनाओं व शहीदों की शहादत का गला घोंटने से बाज आने की दो टूक चेतावनी देते हुए कहा कि  भगवान श्री बदरी केदार की मोक्ष भूमि से निहित स्वार्थ के लिए सत्तामद में खिलवाड़ करने वालों का भी घोर उत्तराखण्ड विरोधी राव, मुलायम व तिवारी की तरह हस्र होगा। उत्तराखण्ड राज्य गठन के लिए संसद की चैखट जंतर मंतर पर 6 साल (1994 से 2000 ) का ऐतिहासिक सफल धरना प्रदर्शन करने वाले मोर्च के अध्यक्ष देवसिंह रावत ने सत्तामद में चूर उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा को आगाह किया कि अगर उन्होने भी उत्तराखण्ड के जनहितों का गलाघोंटने वाले नापाक कृत्यो पर तत्काल अंकुश नहीं लगाया तो उनका भी हस्र तिवारी, खण्डूडी व निशंक जैसे पूर्व मुख्यमंत्रियों की तरह ही होगा। मोर्चा के अध्यक्ष देवसिंह रावत ने …
Image
सरकारी भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने के लिए उछाला गया है क्रिकेट फिक्सिंग प्रकरण
क्रिकेट फिक्सिंग से लाखों गुना खतरनाक है सत्तासीन हुक्मरानों के घोटाले 


जिस प्रकार से प्रधानमंत्री मनमोहन व सप्रंग सरकार की ं कोयला घोटाला प्रकरण मेंसर्वोच्च न्यायालय प्रकरण मे  सीबीआई द्वारा दाखिल किये गये शपथ पत्र व रेलवे में पद्दोन्नति के मामले में रेलमंत्री बंसल के रिश्तेदार द्वारा सीधे धूस लेते हुए सीबीआई द्वारा गिरफतार किये जाने से भारी किरकिरी पूरे देश में हो रही थी, मामले की गंभीरता व सर्वोच्च न्यायालय द्वारा मिली कड़ी फटकार के बाद मनमोहन सरकार को ना चाहते हुए अपनी खाल बचाने के लिए रेल मंत्री बंसल व कानून मंत्री अश्वनी को बर्खास्त कर अपनी खाल बचानी पड़ी।
जनता में हो रही भारी बदनामी से बचाने के लिए सरकार के प्रबंधकों ने दिल्ली पुलिस से पैंसे के खेल आईपीएल का धमाका कर लोगों का ध्यान मनमोहन सरकार के भ्रष्टाचार से बंटाने के लिए किया। इसी लिए इसी समय आईपीएल मैचों में हो रही धूस मिली भगत को पुलिस द्वारा छापेमारी के बाद श्रीसंत सहित कई खिलाडियों व दारा सिंह के बेटे बिन्दु जैसे लोगो को गिरफतार करके संचार व समा…
Image
स्वागत समारोह में गढ़वाल भवन में मुख्यमंत्री बहुगुणा  आते तो नहीं होता विवाद
क्या निशंक प्रकरण से भयभीत है आज भी उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री !

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा अगर आज सांयकाल साढ़े पांच बजे दिल्ली में उत्तराखण्ड की सबसे समृद्ध व सबसे पुरानी सामाजिक संस्था गढ़वाल हितैषिणी संस्था द्वारा आयोजित अपने स्वागत सम्मान में पंहुचते तो आज जो विवाद गढ़वाल भवन में बलात कब्जा जमाने वाले से इतना विवाद नहीं होता। बताया गया कि यह विवाद गढ़वाल भवन के बाहर सडक में जबरन भवन में काबिज सेल वाले के बेनर को हटाने पर हुआ। यह छोटा से विवाद इतना गहरा हुआ कि मामला मंदिर मार्ग थाने में दोनो पक्षों को जाना पडा। पहली बार सैकडों की संख्या में गढ़वाल हितैषिणी सभा के सदस्यों ने इस जबरन भवन के एक भाग पर कब्जा करने वाले के खिलाफ मंदिर मार्ग थाने पर जबरदस्त प्रदर्शन किया। रात के साढ़े नो बजे तक मंदिर मार्ग थाने में जमे उत्तराखण्डी समाज के भारी जमवाडे से पडे  जनदवाब के कारण ही पुलिस द्वारा मिली संरक्षण के बाबजूद सेल वाले को इस पर माफी मांगना पडा। इस विवाद को सुलझाने में बृजमोहन उप्रेती, समाजसेविका गीता …
Image
फिर कभी किसी देश में मनमोहन व अटल जैसा प्रमुख न देना
तुम्हारे कुशासन की वर्षगांठ पर ओर क्या आशीष दें मनमोहन
तुम्हारे कुशासन से खून के आंसू बहाने वाली भारत ये जनता।। 
नापाकी आतंक से जर-जर हो गयी है मेरे भारत की अखण्डता 
भ्रष्टाचार व मंहगाई से त्राही त्राही कर रही है भारत की जनता।।
तुम और तुम्हारे मंत्री नीरो की तरह सत्तामद की बंशी बजा रहे
देखो आज बेरोजगारी में देश का युवा दर-दर भटक रहा है ।।
अबोध बालिकायें ही नहीं, वृद्धायें भी सुरक्षित नहीं तुम्हारे राज में
देश की सीमा ही नहीं, संसद भी सुरक्षित नहीं है तुम्हारे राज में।।
सोनिया -मनमोहन!  अब तो इस देश पर तुम जरा रहम करो  
अपनी अहं के लिए भारत को अमेरिका के लिए बर्बाद न करो ।।
मेरे श्रीकृष्ण अपने भारत पर अब इतनी कृपा तो तुम कर ही देना
फिर कभी किसी देश में मनमोहन व अटल जैसा प्रमुख न देना।।

-देवसिंह रावत 
(22 मई 2013 प्रातः 8.23 बजे )
Image
एक गुट के अध्यक्ष बनने के बाद, ऐरी गुट मारपीट के बाद उक्रांद कार्यालय पर काबिज
कांग्रेस की शह पर उक्रांद पर काबिज होना चाहते है सत्तालोलुपु ऐरीः पंवार
त्रिवेन्द्र पंवार की तानाशाही ने किया उक्रांद का भारी नुकसानः ऐरी
ऐरी को निष्काशित करने का दाव आत्मघाती साबित हुआ त्रिवेन्द्र पंवार को 
देहरादून (प्याउ)। उक्रांद अध्यक्ष त्रिवेन्द्र पंवार ने काशीसिंह ऐरी व उनके समर्थकों पर आरोप लगाया कांग्रेस सरकार की शह पर उक्रांद पर कब्जा कर रहे हैं। दोनो गुट देहरादून कार्यालय पर कब्जा करने का खुला संघर्ष कर रहे हैं। अपने आप को उक्रांद का शीर्ष नेता समझने वाले काशी सिंह ऐरी ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि जिस त्रिवेन्द्रसिंह पंवार को अपना प्यादा समझ कर काशीसिंह ऐरी कई दशकों से दिवाकर भट्ट सहित अन्य विरोधियों पर अंकुश लगाने के लिए बढ़ावा दे कर अध्यक्ष के पद पर भी आसीन करते रहे, वही त्रिवेन्द्र पंवार एक दिन उनको दल से ही निष्काशित करके भष्मासुर साबित होगा।  उक्रांद अध्यक्ष त्रिबेन्द्र पंवार द्वारा उक्रांद के शीर्ष नेता काशीसिंह ऐरी को दल से निष्काशित करने के बाद ऐरी समर्थकों द्वारा देहरादून में इसी सप्ता…
Image
भाजपा के मुगेरीलालों के दवाब में मोदी की ताजपोशी का ऐलान नहीं कर पा रही है भाजपा
मोदी सहयोगियों को मिली प्रदेशों की कमान 

अमित शाह को उत्तर प्रदेश व रूड़ी को महाराष्ठ, वरूण को बंगाल व राधा मोहन को बनाया उत्तराखण्ड का प्रभारी 


नई दिल्ली(प्याउ)। प्रधानमंत्री बनने के हसीन सपने संयोजये भाजपा के कई मुगेरी लालों के कारण भाजपा कार्यकत्र्ताओं व देश की अवाम की पहली पसंद नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री का दावेदार घोषित करने  का साहस तक नहीं जुटा पा रही है। वहीं दूसरी तरफ वर्तमान हालत में देश की जनता किसी भी कीमत पर कांग्रेस के कुशासन को सहने के लिए तैयार नहीं है। इसका खुलाशा इसी सप्ताह जारी हुए पूर्व चुनावी सर्वेक्षण में किये जा रहे है। परन्तु भाजपा जनता की भावनाओं को और मजबूती देते हुए नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री का दावेदार घोषित नहीं कर पा रही है। सुत्रों के अनुसार मोदी का जो विरोध नीतीश व शिवसेना द्वारा किया जा रहा है उसके पीछे भी भाजपा के मुगेरीलालों का ही हाथ है। इन मुगेरीलालों कों संघ व भाजपा का एक संकीर्ण व प्रभावी तबका हवा दे रहा है।
वहीं रविवार 19 मई को भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनाव में भा…
Image
दो टके के लालच में नेताओं व नौकरशाहों ने बना दिया देवभूमि उत्तराखण्ड को शराब का गटर एवं माफियाओं का अभ्याहरण
शराब न पीने देने पर दो भाईयों ने तीन पडोसियों को घर सहित जला मारा


उत्तरकाशी(प्याउ)। पडोसी द्वारा और शराब न पीने देने से शराब के लिए हैवान बने दो भाईयों ने गहरी नींद में सोते अपने तीन पडोसियों के घर में आग लगा कर मार डाला। बिजली, पानी, स्वास्थ्य सेवाओं के लिए तरस रही प्रदेश की जनता यह देख कर हैरान व स्तब्ध हे कि यह बेशर्म सरकार व प्रशासन गंगा यमुना के पावन देवभूमि उत्तराखण्ड को शराब का गटर बनाने को तुली हुई है। प्रदेश के शहर व कस्बों के कोने कोने से लेकर दूर दराज के गांव -गांव तक सरकार शराब पंहुचाने में उतारू हो रखी है। वहीं शराब की लत में पूरा प्रदेश तबाही के गर्त में तबाह हो रहा है। हर जगह हत्या, मार पीट, चोरी व व्यभिचार शराब के कारण होने से जनता त्रस्त है। गांव हो या शहर जन्मदिन से मरण दिन के कार्यक्रमों पर शराब ने पूरी तरह से ग्रहण लगा दिया है। परन्तु सरकार इस पर अंकुश लगाने के बजाय शराब को बढावा दे रही है।
पूरे प्रदेश को स्तब्ध करने वाली उक्त घटना गत सप्ताह सीमान्त जनपद उत्…
Image
25-26 मई को दिल्ली के रामलीला मैंदान में दर्शन देगी माॅं नन्दादेवी 
दिल्ली में माॅं नन्दादेवी के भव्य स्वागत के लिए उत्तराखण्डियों ने कसी कमर 


माॅं भगवती की दिव्य स्वरूपा माॅं नन्दादेवी के दिल्ली के भक्तों को आगामी 25 -26 मई को दिल्ली के विख्यात रामलीला मैदान में दर्शन देगी। भले ही विश्वविख्यात 280 किमी ‘माॅं नन्दा देवी राजजात ’यात्रा का शुभारंभ मोक्ष भूमि उत्तराखण्ड में 28 अगस्त से होगा। परन्तु दिल्ली के माॅं भगवती अपने भक्तों को हिमालयवासनी माॅं नन्दा राज राजेश्वरी के पावन दर्शन 25-26 मई को दिल्ली के विख्यात रामलीला मैंदान में देगी। माॅं भगवती नन्दा राज राजेश्वरी के दिल्ली आगमन पर 25-26 मई की सांय 4 बजे से रात्रि दस बजे तक दर्शन मेले की भव्य तैयारियों के लिए दिल्ली में रहने वाले 30 लाख उत्तराखण्डियों के तमाम संगठन जुट गये हैं।
25-26 मई को माॅं नन्दा राज राजेश्वरी के आगमन व दर्शन मेले के भव्य स्वागत के लिए दिल्ली के तमाम उत्तराखण्डी संगठनों ने कमर कस ली है। इसको ऐतिहासिक स्वरूप देने के लिए शुक्रवार 18 मई की सांयकाल साढ़े सात बजे से साढ़े दस बजे तक दिल्ली पेरामेडिकल इस्टीटयूट, न्यू अशो…
Image
सिनेमा व साहित्य जगत भी, अंग्रेजी की स्वयंभू गुलामी से आजाद हो 
अमिताभ बच्चन से प्रेरणा लें सिनेमा व साहित्य जगत 

काॅस फिल्म महोत्सव में भारत के स्वाभिमान व लोकशाही के प्रतीक हिन्दी में अपने विचार प्रकट करने पर भारतीय सिनेमा जगत के महानायक अमिताभ बच्चन के राष्ट्रीय गौरव बढ़ाने वाले इस कदम का भारतीय भाषा आंदोलन सहित तमाम राष्ट्र भक्त स्वागत करते हुए भारतीय सिनेमा जगत से आवाहन करता है कि उनको जो पहचान, सम्मान व अकूत दौलत जिन भारतीय भाषाओं ने दी उन भारतीय भाषाओं को वे अपने समारोह सहित अपनी निजी जिन्दगी में भी स्थान दें। सहसे शर्मनाक बात यह है कि भारतीय फिल्म जगत के अधिकांश समारोह में ये कलाकार प्रायः जिस भाषा ने इनको इतनी पहचान, सम्मान व दौलत दी उसका तिरस्कार करके केवल अंग्रेजी भाषा में बोलने में अपनी शान समझते है। आशा है भारतीय सिनेमा जगत अपने राष्ट्रीय दायित्व का निर्वहन भविष्य मे अपने तमाम समारोह व अपनी निजी जिन्दगी में करेगा। नहीं तो सिनेमा जगत को भी भारतीय नेताओं, नौकरशाहों व साहित्य कर्मियों की तरह भारतीय भाषाओं को तिरस्कार करने का अपराधी मान कर न केवल आंदोलनकारी धिक्कारेगे अपितु इति…
Image
भारतीय भाषाओं को सर्वोच्च न्यायालय व संघ लोकसेवा आयोग की परीक्षाओं में स्थापित करने के साथदेश में लोकशाही की असली जंग है संसद की चैखट जंतर मंतर पर जारी भाषा आंदोलन
नई दिल्ली। ’ न्यायालय व संघ लोकसेवा आयोग में भारतीय भाषाओं को स्थापित करने की निर्णायक जंग में आगे आयें देश के साहित्यकार, पत्रकार, कलाकार ,राजनेता व सभी देशभक्त । ’ यह आवाहन संसद की चैखट, राष्ट्रीय धरना स्थल जंतर मंतर पर चल रहे भारतीय भाषा आंदोलन में 16 मई को आयोजित हुई एक बैठक में देश के अग्रणी साहित्यकार, पत्रकार व भाषा आंदोलनकारियों ने संयुक्त रूप से भारतीय भाषाओं की शर्मनाक स्थिति को देख कर किया। इस बैठक में भारतीय भाषा आंदोलन के संयोजक पुष्पेन्द्र चैहान, महासचिव देवसिंह रावत, अग्रणी पत्रकार ज्ञानेन्द्रसिंह, समाजवादी नेता सुलतान कुरैशी, इंजीनियर जगदीश भ्ीाट्ट, पत्रकार नीरज जोशी, डा. आर एन सिंह, रामकृष्ण परमहंस, मोहम्मद आजाद, गौरव त्यागी, भगवत स्वरूप मिश्रा, कौशलेन्द्रकुमार, सुनील कुमार सिंह, चन्द्रवीर, सरदार महेन्द्रसिंह, वीपी सिंह, व दलीप कुमार सिंह, आदि ने भाग लिया। इस बैठक की अध्यक्षता, भारतीय भाषा आंदोलन के अध्यक्ष …
Image
पदलोलुपु की नहीं,  उमा भारती जैसी जनहितों के लिए संघर्ष करने वाली नेता की जरूरत
जनहितों पर आवाज उठाने को क्यों सांप सुंघ जाता है उत्तराखण्डी नेताओं को 
बृहस्पतिवार 16 मई को जिस समय उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा सहित उत्तराखण्ड के तमाम राजनेता दिल्ली व उत्तराखण्ड में प्रदेश की बदहाली व दुर्दशा से बेपरवाह हो कर अपने निहित स्वार्थो में डूबकर आराम फरमा रहे थे उस समय भाजपा की तेजतरार नेत्री उमा भारती, अपने दल के शीर्ष नेता लालकृष्ण आडवाणी के नेतृत्व में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मिल कर उत्तराखण्ड की जनआस्थाओं व हक हकूकों के संघर्षों की प्रतीक शिला रूपि ‘धारी देवी मंदिर’ को श्रीनगर के समीप अलकनन्दा नदी में बन रहे बांध में डुबोने को उतारू प्रदेश सरकार व बांध निर्माण कम्पनी से बचाने की गुहार लगा रहे थे।
उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री बहुगुणा सहित अधिकांश कांग्रेसी दिग्गज नेताओं ने अपनी केन्द्रीय सरकार पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर इस पर रोक लगाने के लिए जारी किये गये अपने ही आदेश को वापस ले लिया है। उल्लेखनीय है कि केन्न्द्रीय पर्यावरण व वन मंत्रालय द्वारा उत्तराखण्ड में बांध के लिए उत्त…
Image
केजरीवाल के खुलासे के बाद फिर घिरे कानून मंत्री सहित मनमोहन सरकार 
नई दिल्ली। (प्याउ)। लगता है कानून मंत्री के पद पर ग्रहण लग गया हे। कुछ समय पहले सर्वोच्च न्यायालय द्वारा कोयला आवंटन घोटाले पर सीबीआई जांच में दखल नदाजी करने पर कड़ी फटकार से सरकार की जो किरकिरी हुई। उसने न केवल कानून मंत्री अपितु प्रधानमंत्री सहित पूरी सरकार ही कटघरे में खड़ी हो गयी है। उससे उबरने के लिए कांग्रेस ने मनमोहन सरकार से कानून मंत्री का इस्तीफा दिला कर मंत्री अश्वनी कुमार को बलि का बकरा बनाया गया। कानून मंत्रालय ठीक ठाक से संभालने के लिए कांग्रेस ने कानून के प्रकाण्ड विद्धान कपिल सिब्बल को यह मंत्रालय सोंपा गया। परन्तु यह मंत्रालय मिलते ही नये कानून मंत्री कपिल सिब्बल ने जिस प्रकार से वोडाफोन मामले में पहला निर्णय लिया उस निर्णय से वे खुद कटघरे में खडे हो गये है। आप पार्टी के संयोजक केजरीवाल ने 15 मई बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि सिब्बल ने कानून मंत्री बनते ही ब्रिटिश टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन को 11 हजार करोड़ के टैक्स चोरी मामले में फायदा पहुंचाने की कोशिश की है। सिब्बल ये सब अपने बेटे अमित सिब्बल के लि…
Image
कांग्रेस व लालू के चक्रव्यूह में फंस कर कहीं चैबे से दुबे न बन जाएं नीतीश

एक तरफ पटना के गांधी मैदान में लालू प्रसाद यादव बिहार के मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार को आर एस एस का तौता बता कर उनको अवसरवादी बता कर फटकार लगा रहे थे वहीं दूसरी तरफ योजना आयोग बिहार राज्य के पिछड़े जिलों के विकास के लिये चालू वित्त वर्ष के दौरान 2,500 करोड़ रुपये की राशि मंजूर कर रही थी। राजनीति के मर्मज्ञ इसे कांग्रेस गठबंधन की केन्द्रीय सरकार की इसे  कोरी उदारता नहीं अपितु केन्द्र सरकार के प्रमुख घटक कांग्रेस का आगामी लोकसभा चुनाव में राजग गठबंधन से जदयू को दूर करने का एक सोची समझा राजनैतिक दाव ही मान रहे है। गौरतलब है कि 15 मई को जब पटना में लालू यादव जदयू के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को गांधी मैदान रेली में फटकार रहे थे उसी दिन योजना भवन में योजना आयोग के अध्यक्ष मोंटेक सिंह आलुवालिया , बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ बैठक कर 12वीं योजना में राज्य के लिये घोषित 12,000 करोड़ रुपये के विशेष पैकेज में से 2013.14 के दौरान राज्य के पिछडे इलाकों के विकास हेतु 2,500 करोड़ रुपये जारी करने का ऐलान कर रहे थे।
गौरतल…
Image
जनादेश लेने से क्यों डर रहे  हैं मनमोहन 
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 15 मई बुधवार को असम से राज्यसभा सदस्य बनने के लिए नामांकन पत्र को दाखिल करने से एक सवाल देश भर की जनता पूछ रही है कि आखिर क्यों प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जनादेश लेने से इतना डर रहे है।  गौरतलब है कि मनमोहन सिंह को ही नहीं कांग्रेस नेतृत्व को भी इस बात का भरोसा नहीं है कि अगर प्रधानमंत्री देश की किसी सीट से लोकसभा के लिए चुनाव में उतरे तो वे जीत ही जायेंगे। इसी आशंका से ग्रसित हो कर शायद खुद मनमोहन सिंह व उनकी पार्टी राज्य सभा से निर्वाचित होना पसंद करती है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री के रूप में मनमोहन सिंह बेलगाम मंहगाई, भ्रष्टाचार व आतंकवाद को रोक पाने में पूरी तरह से असफल होने के कारण जनता के बीच बेहद अलोकप्रिय हैं। इसी को देखते हुए अधिकांश चुनावी समीक्षक ही नहीं कांग्रेसियों को भी 2014 में होने वाले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के दुबारा से सत्तारूढ़ होने पर संदेह है।
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह 1991 से राज्य सभा से ही सांसद बनते रहे। यह उनका पांचवां नामंकन है। इससे यह भी सवाल खडे हो रहे हें कि एक दशक से मनमोहन सिंह देश क…
Image
कुटिल अमेरिका, पाक व चीन से सावधान रहे भारत
पाकिस्तान में हाल में सम्पन्न हुए चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी के नेतृत्व में सरकार बनने की संभावनाओं व उसको इमरान खान ीक पार्टी का साथ मिलने की संभावनाओं को देखते हुए जहां एक तरफ भारतीय उत्साहित है। वहीं दूसरी तरफ अपनी भारत यात्रा से पहले चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग भारत और चीन को दोस्ती का हाथ मिलाने के गीत गा रहे हैं। जबकि कुछ ही दिनों पहले लद्दाख क्षेत्र में भारत की सीमा  के 19 किमी अंदर कम से कम दो सप्ताह तक बलात कब्जा जमाने वाला चीन व भारत से जापान अमेरिका के साथ सांझा सैन्य अभ्यास न करने का दवाब डालने वाला चीन अब दोस्ती की गीत गा रहा है। उससे भारतीय नेतृत्व व जनता को अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए। क्योंकि न केवल चीन व पाक ने अभी तक भारत विरोधी अभियान को बंद किया व नहीं उनके कार्यो से कहीं दूर-दूर तक दोस्ताना रूख दिखाई दे रहा है। यही नहीं भारत विरोधी गतिविधियों को संचालित करने के केन्द्र बन कर उभरे पाकिस्तान का सरपरस्त आका अमेरिका भी भले ही तत्कालीन परिस्थितियों के कारण भारत से दोस्ती की डींग हांक रहा हो परन्तु सच्च…