Pages

Tuesday, April 16, 2013



बोस्टन में हुए तीन बम धमाकों से 9/11 के बाद फिर आतंकी हमले से दहला अमेरिका 


15 अप्रैल को आयोजित बोस्टन मेराथन के दोरान हुए तीन बम विस्फोटों ने 9/11 के आतंकी हमले से जख्मी अमेरिका को एक बार फिर आतंक से दहला दिया। अमेरिका के बोस्टन मैराथन स्थल पर हुये दो विस्फोटों में तीन लोगों की मौत हो गयी और 140 से अधिक लोग घायल हो गये। हालांकि इस विस्फोट होने से पहले अधिकांश तेज धावक अपनी दोड़ पूरी कर चूके थे, परन्तु इसके बाबजूद अनैक धावक दोड़ पूरी कर ही रहे थे। अमेरिका में हुए इस बम विस्फोटों की संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून सहित अधिकांश देशों ने कड़ी भत्र्सना की।
1897 से ही अप्रैल के तीसरे सोमवार को पैट्रियट्स डे पर बॉस्टन मैराथन का आयोजन होता है। 117 सालों से चल रहे अमेरिका के सबसे अधिक लोकप्रिय मेराथनों में से अग्रणी इस मेराथन में करीब 5 लाख दर्शक जुटते हैं। इस मेराथन दोड़ में 26 देशों के 20 हजार धावक भी भाग ले रहे थे। मेराथन समापन रेखा के पास ही विस्फोट आतंकियों ने शायद इसी आशय से किये गये कि ज्यादा से ज्यादा लोग इनकी चपेट में आ सकें। दस सेकेंड के अंतराल पर हुए इन दो धमाके एक दूसरे से करीब पचास से सौ मीटर की दूरी पर हुए। इन धमाकों के बाद लोगों के बीच अफरा-तफरी फैल गई। 9/11 के बाद इसको अमेरिका में सबसे बड़ा धमाका बताया जा रहा है। बोस्टन मैराथन 117 वर्षो से लगातार आयोजित की जाती रही है। 42 किमी लंबी मैराथन में यह विस्फोट भारतीय समय के अनुसार रात के 12.20 बजे हुआ। विस्फोट से करीब 15 मीटर ऊंचा धुंए का गुब्बार उठा। इसके बाद लोगों की चिखने व चिल्लाने की आवाज से पूरा माहौल ही गमगीन हो गया। इसके एक घण्टे बाद पहले हुए विस्फोटों से 3 किमी दूर जॉन. एफ. केनेडी प्रेजिडेंशल लाइब्रेरी के पास रात के 1 बज कर 20 मिनट पर हुआ। हालांकि इसमें कोई घायल नहीं हुआ।
भले ही अमेरिका के राष्ट्रपति ने इस धमाकों को आतंकी नाम प्रारम्भ में नहीं दिया परन्तु एफबीआई ने इसे आतंकी हमला बताया। अमेरिका के राष्ट्रपति ओबामा ने ंने दो टूक शब्दों में कहा कि गुनाहगारों को किसी भी हालत में दण्डित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि हमलोग इसकी जड़ तक जाएंगे और खोज निकालेंगे कि ये किसने और क्यों किए हैं।
पुलिस ने तीन विस्फोटों के बाद एक जिंदा बम भी बरामद किया, जिसको बाद में निष्क्रय कर किया। धमाके के बाद न्यूयार्क समेत कई बड़े शहरों में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। वहीं बोस्टन में हवाई सेवा को भी कुछ समय के लिए रोक दिया गया है।

No comments:

Post a Comment