Pages

Friday, October 28, 2011

शीतकाल के लिए केदारनाथ व यमुनोत्री के कपाट हुए बंद


शीतकाल के लिए केदारनाथ व यमुनोत्री के कपाट हुए बंद
विश्व विख्यात केदारनाथ धाम व यमुनोत्री के कपाट  शीतकाल के  लिए 28 अक्टूबर को विधिविधान से बंद कर दिये गये। शीतकाल में जहां भगवान सदाशिव केदारनाथ की विधिवत पूजा उनके शीतकालीन गद्दी ऊखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में तथा  ंयमुनोत्री की शीतकालीन पूजा खरसाली में ंकी जाती है। गौरतलब है कि चंार धाम यात्रा से विश्वविख्यात भगवान बदरीनाथ धाम व केदारनाथ धाम के साथ यमुनोत्री व गंगोत्री की पावन यात्रा  शीतकाल के दोरान बंद ंहोती  है तथा देवताओं की पूजा इनके शीतकालीन स्थलों पर विधिवत की जाती है।  केदारनाथ व यमुनोत्री के बाद इसी पखवाडे बदरीनाथा व गंगोत्री धाम के कपाट भी शीतकाल के लिए बंद ंहो जायेंगें। ंसनातन धर्मावलम्बी लाखों की संख्या में देश विदेश  से हिन्दुओं के इन सर्वोच्च धामों के दर्शन पूजन के लिए हर साल यहां आते है।

No comments:

Post a Comment