Pages

Sunday, September 4, 2011

देष के भविश्य के साथ खिलवाड

देष के भविश्य के साथ खिलवाड
एक भी बच्चे बच्चे को षिक्षा, चिकित्सा व उचित परिवरिष से वंचित रखना देष के भविश्य के साथ खिलवाड है। इस गुनाह की सजा न केवल पीड़ित बच्चे को अपितु पूरे देष व विष्व को भी भोगनी पड़ती है। -देवसिंह रावत www.rawatdevsingh.blogspot.com

No comments:

Post a Comment