-आंध्र प्रदेश में कांग्रेसी जडों में मट्ठा डाला सोनिया व मनमोहन ने


-तेलंगाना न बना कर और जगन मोहन को जेल में बंद करके

ेहैदराबाद(प्याउ)। वादा करके भी तेलंगाना न बनाना और  जगन मोहन रेड्डी को सत्तामद में प्रताडित करने की कांग्रेस नेतृत्व की आत्मघाति भूल से कांग्रेस की सदैव पक्षध्र रही आंध््रप्रदेश के लोग कांग्रेस बेहद आक्रोशित है।
वंशवाद से दशकों तक संचालित हो रही कांग्रेस को जगन रेड्डी से परहेज क्या रहा यह तो सोनिया गांध्ी व उनके सलाहकार ही बता सकते है। परन्तु आम जनता इसे मनमोहन को प्रधनमंत्राी बनाने की तरह ही सोनिया गांध्ी की भयंकर भूल मानती है। पूरे प्रदेश में भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे जगनमोहन रेड्डी के प्रति सहानुभूति की लहर है वहीं तेलंगाना क्षेत्रा में कांग्रेस का नाम लेवा कोई वजनदार नेता भी आज कांग्रेस के पास नहीं है। आम जनता में कांग्रेस के विश्वासघात पर गहरा आक्रोश है। गौरतलब है कि तेलंगाना बनाने का जो वादा कांग्रेस ने दिया था उस पर मुकर कर कांग्रेस ने अपनी जड्डों में एक प्रकार से मट्ठा ही डाल दिया है। इससे आक्रोशित हो कर तेलंगाना क्षेत्रा के कांग्रेसी विधयक व सांसदों ने भी कांग्रेस से इस्तीपफा दे दिया है। परन्तु क्या मजाल है कि सत्तामद में चूर कांग्रेसी नेतृत्व इस दिशा में अपने हित में ही कदम उठाने के लिए तैयार नहीं है। इसी सप्ताह तेलंगाना के मुद्दे पर विधनसभा घेराव भी किया गया। वहीं अभी तक एक हजार से अध्कि आंदोलनकारी इस राज्य गठन के लिए अपनी शहादत दे चूके हैं। परन्तु जनता की इस प्रबल मांग को कांग्रेस सहित देश की तमाम सरकारें पता नहीं क्यों सुनने में असपफल रही। देश के हुक्मरानों का जनभावनाओं को नजरांदाज करने की प्रवृति देश व लोकशाही के हित पर किसी कुठाराघात से कम नहीं है। 

Comments

Popular posts from this blog

>भारत रत्न, अच्चुत सामंत से प्रेरणा ले समाज व सरकार