खुदा का नाम हो

खुदा करे की तुम्है ं हर एक मुकाम हासिल हो,
जुबाॅं पर तेरे ऐ दोस्त सदा खुदा का नाम हो
जब याद आये मेरी तो तेरे लबों पर मुस्कान हो
मिले कभी भी जिन्दगी में तो हम अंजान से न हों
- देवसिंह रावत (18 फरवरी 2012 प्रातः 9 बजे)

Comments

Popular posts from this blog

>भारत रत्न, अच्चुत सामंत से प्रेरणा ले समाज व सरकार