Pages

Sunday, December 16, 2012


शंकराचार्य के पद पर आसीन होने के 19 वर्ष पूरे होने पर 

शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज को भव्य अभिनन्दन 

 विश्व के सबसे प्राचीन व शास्वत हिन्दू धर्म के सर्वोच्च धर्माध्यक्ष ‘शंकराचार्य ’ के पद पर आसीन हुए 19 वर्ष पूरे   होने पर देश की राजधानी दिल्ली में रविवार, 16 दिसम्बर को राजनेताओं व धर्माचार्यो सहित हजारों श्रद्धालुओं ने शंकराचार्य माधवाश्रम जी का भव्य अभिनन्दन किया। गौरतलब है कि आज से 19 साल पहले हिन्दू धर्म के 4 शंकराचार्य पीठ में से प्रमुख ज्योतिष पीठ पर शंकराचार्य के पद पर शंकराचार्य श्रीकृष्णबोध आश्रम जी के परम शिष्य, गोरक्षा आंदोलन के ध्वजवाहक, हिन्द धर्म के मर्मज्ञ माधवाश्रम जी महाराज को आसीन  किया गया था।  16 दिसम्बर को  दिल्ली के सिविल लाइन क्षेत्र में 7 शंकराचार्य मार्ग स्थित श्रीकृष्णवोध आश्रम में प्रातः काल से ही धर्माचार्यो, राजनेताओं व श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। प्रातःकाल से ही विशाल भव्यमंच पर सैकडों साधु संतों के मध्य  धर्मध्वजा व छत्र युक्त ऊंचे सिहासन पर विराजमान ज्योतिषपीठाधीश्वर जगतगुरू शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज का वैदिक परंपरा के अनुसार धर्माचार्यो की दिव्य स्तुति मंत्रों व श्रद्धालुओं की हर हर महादेव व जय राम श्री राम, जय जय राम आदि के गगनभेदी नारों से गूंजायमान हो रहा था। शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज अभिनन्दन समिति के मुख्य यजमान व शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज धर्मार्थ न्यास (चिकित्सालय कोटेश्वर उत्तराखण्ड ) के अध्यक्ष प्रमोद महाजन अपने सपरिवार श्रद्धालुओं के स्वागत व भण्डारे के प्रबंध में लगे रहे। शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज के श्रीचरणों को नमन् करने के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री जगदीश टाइटलर, भाजपा नेता व उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री भुवनचंद खण्डूडी, व शीर्ष धर्माचार्य उपस्थित थे। शंकराचार्य माधवाश्रम जी महाराज के परम शिष्य श्री वशिष्ट के अनुसार यहां ,उद्यमी प्रमोद महाजन, उनकी धर्मपत्नी, पुत्र, पुत्री व दामाद, उद्यमी आनन्द कुमार बंसल, ज्योतिष्पीठ के श्री महंत ब्रह्मचारी जी, कोटेश्वर मठ के श्रीमहंत शिवानन्द जी, दिल्ली संस्कृत अकादमी के उपाध्यक्ष श्रीकृष्ण सेमवाल, श्रीकृष्ण विश्व कल्याण भारती के देवसिंह रावत, पत्रकार डा गोविन्द बल्लभ जोशी, उत्तराखण्ड पत्रकार परिषद के पूर्व महासचिव दाताराम चमोली, भारत पाण्डे व सुन्दरियाल, समाजसेवी प्रकाश बिष्ट, आचार्य सेमवाल, उद्यमी राजेंन्द्र जगवान व समाजसेवी दीनदयाल सहित अनैक प्रमुख श्रद्धालुओं ने शंकराचार्य का भव्य अभिनन्दन किया। इस अवसर पर यहां पर विशाल भण्डारे का भी आयोजन किया गया था। गौरतलब है कि देश के वर्तमान शंकराचार्यो में माधवाश्रम जी महाराज ही एक मात्र ऐसे शंकराचार्य हैं जो पांच दशकों से गो हत्या के विरूद्ध व्यापक जनांदोलन में सड़कों पर आंदोलन करके जनता में व्यापक जागरूकता लाने के लिए पूरे हिन्दू समाज में वंदनीय है।

No comments:

Post a Comment