26 जनवरी को संसद की चैखट जंतर मंतर में दामिनी प्रकरण पर उमडे आंदोलनकारी


बलात्कारियों को फांसी की सजा देने की मांग करते हुए जस्टिस वर्मा

29 जनवरी को जंतर मंतर से इंडिया गेट होगा मार्च 

एक तरफ राजपथ पर 26 जनवरी को सरकार देश का गणतंत्र दिवस हर्षोल्लाश से मना रही थी उसी दिन संसद की चैखट  ‘राष्ट्रीय धरनास्थल जंतर मंतर पर 16 दिसम्बर को दिल्ली की एक बस में सामुहिक बलात्कार की शिकार हुई 23 वर्षीया छात्रा  दामिनी को न्याय दिलाने व महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा पर अंकुश लगाने के लिए कठोर कानून बनाने की मांग को लेकर जंतर मंतर पर 16 दिसम्बर क्रांति, आप की छात्र युवा ईकाई व दिल्ली, जवाहर लाल नेहरू सहित कई विश्वविद्यालयों के छात्रों सहित कई संगठनों ने धरना प्रदर्शन किया। 16 दिसम्बर क्रांति के नाम से जंतर मंतर पर इस प्रकरण के विरोध में 24 दिसम्बर से निरंतर धरना प्रदर्शन कर  रहे आंदोलनकारियों ने  पूरे जंतर मंतर को 16 दिसम्बर क्रांति के झण्डे पंम्पलेटों के साथ गगनभेदी नारों से अपने आंदोलन को गणतंत्र दिवस के अवसर पर भी जारी रखते हुए बलात्कार के दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग करते हुए जस्टिस वर्मा समिति की सिफारसों को सिरे से नकार दिया। वहीं 16 दिसम्बर क्रांति नाम से संचालित इस निरंतर धरने को अरविन्द केजरीवाल ने संबोधित करते हुए अपना पूरा समर्थन दिया।  वहीं दामिनी के देहान्त के एक माह होने पर 29 जनवरी को 16 दिसम्बर क्रांति संगठन ने जनता से जंतर मंतर से इंडिया गेट तक मार्च करने का ऐलान किया।
वहीं जंतर मंतर पर दिल्ली, जवाहर लाल नेहरू सहित अनैक विश्वविद्यालय के छात्रों ने गणतंत्र दिवस के दिन मण्डी  हाउस से संसद की चैखट जंतर मंतर तक विशाल प्रदर्शन किया। इसमें बड़ी संख्या में माले व इसकी छात्र ईकाई आइसा से जुडे युवाओं ने भाग लिया। इसमें देश विदेश  की मीडिया की उपस्थिति में सैकडों की संख्या में महिलाओं ने भी भाग लिया। ये लोग जस्टिस वर्मा आयोग की सिफारसों को तुरंत लागू करने की मांग भी कर रहे थे।
इसके अलावा जंतर मंतर पर अरविन्द केजरीवाल, मनीष सिसौदिया व गोपाल राय की सरपरस्ती में आम आदमी पार्टी की छात्र युवा  संगठन ने जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन किया। इसमें बडी संख्या में आप पार्टी के कार्यकत्र्ता आप पार्टी की  टोपियां पहने हुए नजर आये। इसमें शहनाज हिन्दुस्तानी के राष्ट्रभक्ति के गीतों से लोगों को इस संघर्ष में चढ़बढ़ कर संघर्ष करने के आवाहन भी लोगों से किया। वहीं आप पार्टी के प्रवक्ता गोपाल राय ने सरकार को दो टूक चेतावनी दी कि अगर फरवरी माह तक सरकार ने सदन में बलात्कारियों को कडी सजा देने वाला कानून नहीं बनाया तो उनकी छात्र युवा संगठन 1 मार्च को जंतर मंतर पर आंदोलन तेज कर देगी।
इसके अलावा जंतर मंतर पर अरविन्द केजरीवाल व उनकी पार्टी के धरने के विरोध करते हुए उनके सहयोगी रहे अग्रणी आंदोलनकारी श्रीओम एवं साथियों ने भी इस संवेदनशील मुद्दे पर राजनीति न करने के नारे व पोस्टर लहराये।
इस अवसर पर जंतर मंतर पर जहां चण्डीगढ़ पुलिस के डीआईजी पर लम्बे समय तक यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पीडि़ता भी 12 वें दिन के अनशन के बाद राममनोहर लोहिया अस्पताल में दाखिल होने बाद फिर जंतर मंतर पर लोट आयी। वहीं जंतर मंतर पर दिल्ली में एक पार्षद द्वारा योन शोषण व उत्पीड़न से पीडि़त परिवार ने भी यहां पर अपना धरना जारी रखा। वहीं इनके दोषियों को अविलम्ब गिरफतार करने की मांग करते हुए बाबू सिंह का आमरण अनशन जारी रखा।
इस अवसर पर इस आंदोलन में कई बार अपनी पेंटिंगों व कलाकृर्तियों से समर्थन करने वाले पेंटर व कलाकार चंदर प्रकाश अपने साथियों के साथ यहां पर अपनी पेंटिंग बना कर जनाक्रोश को नयी अभिव्यक्ति देते रहे।
इसके साथ ही यहां पर कई बार अपने सूफी गीतों से इस आंदोलन को नयी दिशा देने के लिए कई संगीतकारों व गीतकारों ने सांयकाल अपने सूफी गीतों की प्रस्तुति दे कर दामिनी को श्रद्धांजलि दी।
इसके बाद सांयकाल 16 दिसम्बर क्रांति के आंदोलनकारियों ने मोमबत्तियां जला कर चलने वाला मार्च गणतंत्र दिवस के दिन भी जोश खरोश के साथ करके दामिनी को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Comments

Popular posts from this blog

>भारत रत्न, अच्चुत सामंत से प्रेरणा ले समाज व सरकार