Pages

Sunday, January 27, 2013


 भारत को ही नहीं विश्व को आज जरूरत है मोदी जैसे मजबूत नेतृत्व की 


भारत को ही नहीं आज विश्व को भी अमेरिका, चीन व कटरपंथी धर्मांध तत्वों से बचाने के लिए मोदी जैसे मजबूत नेतृत्व की जरूरत है। जिस प्रकार से आज पूरी मानवता इन तत्वों के दंश से कराह रही है उससे मानवता को उबारने के लिए मोदी जैसे मजबूत नेतृत्व की जरूरत है। आज देश को दिशाहीन व खुदगर्ज कांग्रेस या भाजपा जैसे तमाम वर्तमान दलों की उतनी जरूरत नहीं जितना मोदी जैसे मजबूत नेतृत्व की। आज देश के तमाम दलों से देश की जनता का विश्वास एक प्रकार से उठ चूका है। वे देश को इन सत्ता के चंगैजों से मुक्ति नहीं दिला पा रहे हैं। तोगडिया सहित तमाम मोदी विरोधियों को एक बात समझ लेनी चाहिए कि जब एनडीए या भाजपा या कांग्रेस ही नहीं अंग्रेज या मुगल भी नहीं थे तब भी देश था। देश के लिए एक दल नहीं सेकडों दिशाहीन व पदलोलुपु दल कुर्वान किये जा सकते है। परन्तु एक मजबूत नेतृत्व को अपने निहित स्वार्थ के लिए पीछे धकेलने का खमियाजा देश को कई शताब्दियों तक भोगना पड़ता है। मोदी वर्तमान में सभी नेताओं में देश को मजबूत बनाने  के लिए सर्वोत्तम है। देश को आज पाक, अमेरिका व चीन जैसे विदेशी दुश्मनों से अधिक इस देश के जातिवादी, कट्टरपंथी, क्षेत्रवादी व भ्रष्टाचारी जयचंदों से है। मोदी में भी कमियां हो सकती है परन्तु वर्तमान समय में देश के तमाम प्रधानमंत्री के दावेदार सभी दलों के नेताओं में मोदी ही एक ऐसा नाम है जो राष्ट्र को मजबूत व सही दिशा देने में सक्षम  है। देश के तमाम दुश्मन नहीं चाहते हैं कि देश को मजबूत नेतृत्व मिले।  क्योंकि मजबूत नेतृत्व ही भारत को विश्व में ताकतवर व विकसित देश बना सकता है। इसलिए भारत के तमाम दुश्मन नहीं चाहते हैं कि मोदी जैसा मजबूत नेता के हाथ भारत की बागडोर हो। आशा है मोदी बिना किसी भेदभाव के देश के तमाम लोगों को ऐसा सुशासन देंगे कि लोगों को मनमोहन सिंह जैसे कुशासकों के द्वारा दिये गये दंश से उबर कर राष्ट निर्माण के कार्य में समर्पित रहेंगे।  याद रखों देश ही नहीं घर की रक्षा की जिम्मदारी जो कमजोर, विश्वासघाती व भ्रष्टाचारी दिशाहीन नेताओं के हाथों में सौंपना चाहते हैं वह किसी देश को तोड़ने से कम नहीं है। क्योंकि मनमोहन व अटल की तरह का कमजोर नेतृत्व भारत को अमेरिका व पाक के दंशों से ही नहीं अपितु भ्रष्टाचारियों से भी नहीं बचा सकता। जरूरत  है मोदी को देश की जनता का और विश्वास जीतने की।

No comments:

Post a Comment