Pages

Monday, May 7, 2012


जग रोशन कर दो

शुभ हर पल हो जीवन में सबके,
ऐसा मंगल मय हो जग सारा,
राग द्वेष धृणा शोषण से हो मुक्त
बहे हर पल निर्मल प्रेम की धारा।।
प्रभु ऐसा तन-मन जग कर दो,
जीवन रहे समर्पित सतपथ पर।
दुख सुख सबके हो सांझा यहां
ऐसे सूर्य से जग रोशन कर दो।।

देवसिंह रावत
(8 मई 2012 प्रातः 8 बजे)

No comments:

Post a Comment