Pages

Sunday, April 1, 2012

जरूरत है भारत को वीर राष्ट्रभक्त सपूतों की


जरूरत है भारत  को वीर राष्ट्रभक्त सपूतों की


सोनिया की बात न कर, सोनिया तो कल की आयी
हर भ्रष्टाचारी दुशासनों को जनता सबक सिखायेगी
जनहित को रौंदने वालों को सत्ता से दूर भगायेगी।
पर जनता तो मर्माहित हैं अपने ही विश्वासघातियों से
स्वदेशी व राष्ट्रवादी बन भ्रष्टाचार फेलाने वालो से ।।
विदेशी विदेशी कह कर देश में राज करने वालो से
देखों इनके राज में देश में कैसा  राम राज छाया था।
संसद को तो बचा नहीं पाये, कंधार में भी नाक कटाई,
राम ही नहीं  भारत को भूल कर इंडिया राईजिंग गाये
भूल गये गौ माता, कश्मीर को जिन्ना के बने अनुरागी।
वंदे मातरम् भूल कर ,दुश्मन अमेरिका के बने साथी।
नवरत्न उद्यमों को बेच कर खुब राष्ट्र मलाई डकारी
देवभूमि की लोकशाही पर भी जातिवादी  ग्रहण लगाया
कालनेमी, कलंकों को जननायक का ताज पहनाया।
मंहगाई, आतंक व भ्रष्टाचार से तो जनता रही त्रस्त
पर विश्वासघातियों के दंश से पूरा देश हो गया पस्त।।
आज जरूरत है भारत  को वीर राष्ट्रभक्त सपूतों की
बचाये जो भारत को कांग्रेस व भाजपा के कालनेमियों से ।।
-देवसिंह रावत
(सोमवार, 2 अप्रैल 2012, प्रात 7.59 बजे)

No comments:

Post a Comment