Pages

Tuesday, April 24, 2012


जहां सत्य, धर्म पर चलने वाले भी
अन्यायी को पोषण करते हैं
वही भीष्म, कर्ण, द्रोणाचार्य जेसे भी
कुरूक्षेत्र में मरते रहते है।।

-देवसिंह रावत

No comments:

Post a Comment